Bannerad

अनमोल वचन शायरी

जो यह सोचते है की वे किसी भी प्रकार की सेवा करने के योग्य नहीं है 
वो नवनीत से आकर मिलें \ 146
 
 
एक बेहतरीन इंसान अपनी जुबान से ही पहचाना जाता है 
वर्ना अच्छी बातें तो दीवार पर भी लिखी होती है। 


कहते है दुःख बाटने से काम होता है 
पर इन्शान अपना दुःख अपनों को इसलिय नहीं बताता 
ताकी वो  दुःखी न हो 
और दूसरों को इसलिय नहीं बताते 
क्योंकि उनेह वो इस लायक नहीं समझते। 



डरपोंक अपनी मृतुय् से पहले कई बार मरते है 
बहादूर मोंत का सब्द और कभी नहीं बस एक बार चाहते है।

No comments: