Bannerad

हिंदी शायरी 146

जोखिम उठायें --
यदि आप जीत जाते है तो
आप खुश होगें
यदि आप जीत जाते है तो
आप समझदार बन जायेगें।

अब बफा की उम्मीद भी किस से करे भला
मिट्टी के बने लोग कागज में बिक जाते है।

जीवन का एक सच
में हमेशा खुश रहता हूँ क्यों ?
क्यों की में किसी से कोई उम्मीद नहीं रखता उम्मीदें हमेशा दर्द देतीं है।

 प्रतिभा का विकासः शांत वर्तमान में होता है
और
चरित्र का विकासः मानव जीवन के तेज प्रभाव में।

दुनिया बड़ी भुलक्कड़ है
वह तो उतना ही याद रखती है
जितने से उसका सुयार्थ होता है।
१४६

No comments: