Bannerad

वचन शायरी



लेकिन आदमी आदमी होता है;
जो सबसे अच्छे होते हैं वो कई बार ये भूल जाते हैं.

  

डरपोक अपनी मृत्यु से पहले कई बार मरते हैं;
बहादुर मौत का स्वाद और कभी नहीं बस एक बार चखते हैं.


मछलियाँ पानी में रहती हैं,
जैसे इंसान जमीन पे रहता है;
बड़े वाले छोटे वालों को खा जाते हैं.

  

भगवान ने तुम्हे एक चेहरा दिया है,
और तुम अपने लिए एक नया बना लेते हो.

  

एक छोटी सी मोमबत्ती का प्रकाश कितनी दूर तक जाता है!
इसी तरह इस बुरी दुनिया में एक अच्छा काम चमचमाता है.

No comments: