Bannerad

वचन शायरी



मैं पैसों के लिए बिजनेस में गया,
और वहीँ से कला पैदा हुई .
यदि इस टिपण्णी से लोगों का मोह भंग होता है
तो मैं कुछ नहीं कर सकता . यही सच है .
 
अब मेरे लिए अमेरिका का कोई उपयोग नहीं है .
यदि यीशु मसीह भी वहां के राष्ट्रपति बन जाएं तो भी मैं वहां वापस नहीं जाऊंगा .
 
आप किसका मतलब जानना चाहते हैं ?
ज़िन्दगी इच्छा है , मतलब नहीं .
 
तानाशाह खुद को आज़ाद कर लेते हैं,
लेकिन लोगों को गुलाम बना देते हैं .
 
ये बेरहम दुनिया है
और इसका सामना करने के लिए तुम्हे भी बेरहम होना होगा .
 
अभिनेता ठुकराए जाने की तालाश करते हैं।
यदि उन्हें ये नहीं मिलता तो वे खुद को ठुकरा देते हैं .

No comments: